ओपीओपी योजना के तहत उत्पादों को बेहतर बनाने में मदद करने के लिए यूपी के छात्र

0
2


लखनऊ: उत्तर प्रदेश में तकनीकी और प्रबंधन संस्थानों के छात्रों को अब प्रौद्योगिकी के उपयोग के साथ ‘वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट’ (ODOP) योजना को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी।

छात्रों ने प्रौद्योगिकी के आत्मसात द्वारा अलीगढ़ के ताले को बेहतर बनाया और कन्नौज इत्र और भदोही कालीनों को अंतर्राष्ट्रीय विपणन के लिए प्रबंधन मंत्र दिया।

सूक्ष्म एवं लघु उद्योग विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार, डॉ। एपीजे अब्दुल कलाम प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के साथ मिलकर, ओडीओपी के साथ छात्रों को जोड़ने के लिए नवंबर के अंत में एक हैकथॉन का आयोजन करेगी।

हैकथॉन के संचालन के लिए राज्य के चौदह इंजीनियरिंग कॉलेजों को नोडल केंद्र बनाया गया है।

ODOP पर छात्रों से सुझाव लिए जाएंगे। यह 250 से अधिक संबद्ध संस्थानों के छात्रों को भी अभ्यास में शामिल करने की उम्मीद है।

इसमें B.Tech के छात्रों को उत्पाद योजना को तकनीक से जोड़कर बेहतर बनाने में मदद मिलेगी, ताकि उत्पाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक नई पहचान बना सके।

विश्वविद्यालय-संबद्ध प्रबंधन संस्थानों के छात्र उत्पादों के बेहतर प्रबंधन का सुझाव देंगे।

AKTU के कुलपति प्रो विनय कुमार पाठक ने कहा कि छात्रों के अभिनव विचार उत्पादों को एक नई पहचान देंगे।

ODOP, योगी आदित्यनाथ सरकार की एक महत्वाकांक्षी प्रमुख योजना है। इसका उद्देश्य राज्य के विभिन्न जिलों में निर्मित उत्पादों को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रिय बनाना और साथ ही श्रमिकों को रोजगार के अवसर प्रदान करके उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है। इसमें वे उत्पाद शामिल हैं जो केवल उत्तर प्रदेश में बने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here